CVV क्या है और डेबिट कार्ड में क्यों होता है ?  

What is CVV Number in Debit Card आज के दौर में कैशलेस पेमेंट के लिए काफी सिक्योरटी को ध्यान में रखा जाता है क्योकि साइबर ठग इसी मौके की तलाश में रहते है कि आप कोई गलती करे और वे आपको चुना लगा दे . 

What is CVV Code in Hindi


इसी कर्म डेबिट और क्रेडिट कार्ड की सुरक्षा के लिए उसके साथ एक विशेष 3 या 4 डिजिट का कोड जोड़ा जाता है जिसे हम Card Verification Value  यानी की CVV Code कहते है

    आज हम इस आर्टिकल में जानेंगे कि CVV Code Kya Hota Hai और हम कैसे अपने डेबिट कार्ड का CVV Code Pata Kar Sakte Hai . किस तरह CVV Code हमारे कार्ड को सुरक्षा देता है . 

    क्या UPI ID से पैसा कैश के रूप में निकाला जा सकता है ? 

    CVV Full Form 

    CVV की फुल फॉर्म होती है :- Card Verification Value  (कार्ड वेरिफिकेशन वैल्यू ) . यह ज्यादातर 3 डिजिट का सिक्यूरिटी से जुड़ा नंबर होता है जो डेबिट कार्ड के पीछे लिखा होता है . जब आप अपने डेबिट कार्ड की मदद से ऑनलाइन पेमेंट करना चाहते है तो आपसे CVV की जानकारी मांगी जाती है . यदि आप सही CVV इंटर करते है तभी पेमेंट हो पाता है . 

    हिंदी में CVV की फुल फॉर्म होती है कार्ड सत्यापन कोड

    बचत खाते में बैंक ब्याज दर क्या होती है ? What is Bank Interest Rate  in Saving Account 

    कब और किसने शुरू किया CVV Code 

    साल 1995 में इंग्लैंड के माइकल स्टोन ने इसकी शुरुआत की थी . पहले के समय में यह सीवीवी कोड (CVV Code ) 11 नंबर का होता था जिसके मुख्य कार्य आपके एटीएम कार्ड और क्रेडिट कार्ड को एक्स्ट्रा सुरक्षा देना था . बाद में समय के साथ नए नए सिक्यूरिटी फीचर आने से इसके काम में भी काफी सुधार किया गया . 

    कैसे पता करे अपने कार्ड का CVV ? 

    बैंक जो कार्ड आपको बैंकिंग की सुविधा के लिए देता है उसमे आपको अपना CVV Code नंबर मिल जायेगा .

    यह आपके डेबिट कार्ड के पीछे सिग्नेचर की जगह के पास में 3 या 4 डिजिट का होता है . 

    आप निचे दी गयी फोटो में यह देख सकते है और फिर अपने डेबिट कार्ड के भी सीवीवी कोड नंबर देख सकते है . 

    What is CVV in Hindi

    CVV Code के दो मुख्य विभाजन 

    जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया कि डेबिट कार्ड के पीछे मिडिल में 3 या 4  नंबर का CVV होता है . पर अब आप जान कर हैरान हो जाओगे की रियल CVV में सिर्फ 3 या 4 डिजिट ही नही बल्कि बहुत सारी डिजिट होती है . 

    बस आपके लिए तो unhidden यह 3 या 4 नंबर ही CVV कोड होते है बाकी इसके आगे के नंबर एक वाइट पट्टी में Hidden होते है . 

    जब आप मेग्नेटिक स्ट्रिप रीडर मशीन में अपने कार्ड को स्वैप करते है तब यह Hidden नंबर उस मशीन के द्वारा पढ़े जाते है . 


    डेबिट कार्ड कितने प्रकार के होते है - Types of Debit Cards in hindi 


    सीवीवी कोड  कैसे करता है सुरक्षा 

    हमने पहले ही बताया है कि सीवीवी कोड नंबर आपके कार्ड और बैंक अकाउंट की सुरक्षा के लिए होता है . यह कोड तब काम में लिया जाता है जब आप ऑनलाइन पेमेंट अपने कार्ड की डिटेल्स देकर  करना चाहते है . उस कंडीशन में आप फिजिकल कार्ड को कही स्वैप नही कराते है बल्कि सिर्फ यह जानकारियाँ देते है जैसे की 

    कार्ड का नंबर क्या है - What is Card Number 

    कार्ड किसके नाम से है - Card Owner Name 

    कार्ड की वैलिडिटी कितनी है - Validity Of Card 

    और कार्ड का CVV कोड क्या है . What is the CVV Code in Card . 

    यह सभी जानकारी देने के बाद आप वेरीफाई होते है कि आपके हाथ में वही डेबिट कार्ड है और फिर आपको बैंक की तरफ से एक OTP (One Time Password ) भेजा जाता है जो आपके पेमेंट स्क्रीन पर डालना होता है . 

    यदि आपने गलत CVV डाला तो आप सिक्यूरिटी कोड में फ़ैल हो जाओगे और इस तरह आपने देखा किस तरह  सीवीवी कोड नंबर एक अलग तरह की सुरक्षा आपके कार्ड को देता है जब उससे ऑनलाइन कोई ट्रांजेकशन करने की कोशिश की जाती है . 

    CVV के अन्य नाम 

    दोस्तों अब मैं जो बताने जा रहा हूँ वो जानना भी आपके लिए बहुत जरुरी है कि CVV सिर्फ एक ही नाम नही है बल्कि इसके कई अन्य समारार्थी नाम भी है . यदि आपसे ऑनलाइन ट्रांजेक्टशन से जुड़ा CVV मांगे या फिर CSC Code या फिर CIN या CVC या CVV2 तो यह सभी CVV के लिए काम में आने वाले अन्य नाम है . 

    अब चलिए इन सभी नामो की फुल फॉर्म भी जान लेते है . 

    CSC मतलब Card Security Code 

    CIN मतलब Card Identification Number 

    CVC Means Card Verification Code . 

    CVV और PIN नंबर में क्या फर्क है ? 

    दोस्तों CVV पिन नंबर से बहुत अलग होता है .सीवीवी और पिन नंबर में बहुत सारे अंतर होते है और बहुत से लोग इसे एक ही मान लेते है . तो चलिए जानते है कि कैसे पिन नंबर और CVV कोड एक दुसरे से अलग है . 

    दिखाई के मामले में -  

    आपके डेबिट कार्ड में पीछे की तरफ आप अपने CVV नंबर को देख सकते है जो 3 या 4 नंबर का होता है . जबकि आपके डेबिट कार्ड के पिन नंबर कार्ड में नही लिखे होते है . 

    बनाने के मामले में - 

    CVV कोड को बनाने का काम Debit Card Manufacture करते है जबकि एटीएम कार्ड के पिन नंबर आप एटीएम मशीन पर जाकर अपनी पसंद से बना सकते है . आपके द्वारा बनाये गये पिन नंबर सिर्फ आपको ही पता होते है . जबकि CVV code बैंक को भी पता होता है . 

    बदलाव के आधार पर - 

    जब तक आप डेबिट कार्ड का प्रयोग कर रहे है तब तक वो CVV Code आप बदल नही सकते है . यानी की CVV Permanent कोड होता है .   जबकि आप कितनी बार भी अपने डेबिट कार्ड के पिन नंबर को बदल सकते है , Update कर सकते है . 

    हां यदि किसी कारणवश आपका एटीएम खो जाये या एटीएम कार्ड खराब हो जाये तो फिर आपको नया एटीएम बैंक देता है तब उस कार्ड में लिखे हुए CVV कोड अलग हो सकते है . 

    CVV FAQ 

    प्रश्न 1 :  CVV का क्या काम होता है और यह क्यों जरुरी है ? 

    उत्तर 1 : कार्ड वेरिफिकेशन वैल्यू होती है जो डेबिट और क्रेडिट कार्ड के पीछे की तरफ 3 डिजिट का कोड होता है . यह कार्ड की ऑनलाइन पेमेंट के समय सुरक्षा से जुड़ा होता है जो आपको फ्रॉड से बचाता है . 

    प्रश्न 2 :  CVV Code के लिए अलग अलग क्या नाम है ? 

    उत्तर 2  : CVV( Card Verification Value ) , CIN (Card Identification Number ) , CVC (Card Verification Code ) , CSC (Card Security Code ) आदि के नाम से से सीवीवी को जाना जाता है . 

    प्रश्न 3 :  क्या ATM Machine में हमें CVV Code काम में लेना पड़ता है ? 

    उत्तर 3   : जी नही , एटीएम मशीन पर आपको कार्ड को स्वैप करके बस अपने पिन नंबर ही डालने होते है , वहा किसी भी तरह से आपको डेबिट कार्ड के CVV Code नही पूछे जाते है . 

    प्रश्न 4 :  क्या मैं अपने डेबिट क्रेडिट कार्ड का CVV Code खुद Generate कर सकता हूँ ? 

    उत्तर 4   : जी नही , CVV Code डेबिट कार्ड को बनाने वाली कंपनी जैसे की VISA , Master Card , Rupay द्वारा ही बनाये जाते है . आप स्वयं इसे Generate नही कर सकते है .  

    Conclusion 

    दोस्तों इस पोस्ट में आपने जाना कि CVV Code Kya Hota Hai और  CVV Code Kaise Pata Kare . यदि CVV Number से कोई अन्य जानकारी करनी है तो आप कमेंट कर सकते है . 

    आशा करता हूँ इससे  जुड़े इस आर्टिकल (CVV Code किसे कहते है और यह किसलिए काम में लिया जाता है )  के द्वारा आप यह पूरा प्रोसेस समझ गये होंगे . आपने यह भी जाना कि आपके कार्ड के फाइनेंसियल सिक्यूरिटी के लिए एक सीवीवी कोड कितना जरुरी होता है . 

     यदि फिर भी आपके कोई सवाल है तो आप कमेंट में हमसे पूछ सकते है . मेरी कोशिश रहेगी कि आपको उनके जवाब दे सकू. 

    और ऐसी ही बहुत सारी ज्ञानवर्धक पोस्ट के लिए आप TechGyan Website के Sitemap पेज को देख सकते है . 

    आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसे Social Media Network पर जरुर शेयर कीजियेगा . 

    बैंकिंग से जुड़े दुसरे आर्टिकल 

    यूपीआई आईडी क्या होती है और इससे कैसे पेमेंट करते है ? 

    आधार कार्ड में में घर बैठे कौनसे बदलाव आप खुद करा सकते है ? 

    व्हात्सप्प पेमेंट कैसे करते है - Whatsapp Payment in Hindi 

    बिना इन्टरनेट , बिना स्मार्टफोन में आप UPI से भेज सकते है पेमेंट , जाने कैसे करे यह काम 

    कैसे करे अपना बैंक का बैलेंस चेक - जाने अलग अलग सभी  तरीके

    Post a Comment

    Previous Post Next Post